-->

What causes cancer? | cancer kaise hota hai jankari hindi me कैंसर का रोग क्यों और कैसे होता है .

why cancer is caused.What causes cancer?kaise hota hai cancer

The body works with a system, there is a resistance force in the human body, which is skilled in fighting all kinds of diseases, when there is a decrease in this immune force, then many types of diseases start attacking the body.



In the most basic language, the term cancer is used to refer to sick cells that go out of control and invade other tissues- healthy cells. Cancer can occur due to defects in the DNA of cells, or accumulation of mutations.



Some patients have these inherited genetic defects and sometimes infections can also increase the risk of cancer.




Contaminated environments — air pollution and poor lifestyle choices — such as smoking and heavy alcohol use — can also damage DNA and cause cancer.



Most cells are able to detect and repair their own DNA damage and repair or repair themselves. If a cell is severely damaged and cannot repair itself, it usually undergoes so-called programmed self suicide or apoptosis. Which means these sick cells destroy themselves.



Cancer occurs when these damaged cells start growing abnormally instead of self-destructing, dividing and spreading throughout the body, damaging other cells.



How cancer starts in the body: -



You read above how cancer spreads in the body, now you know how a deadly disease like cancer grows in the body, how it starts, people are getting high quality and diverting day by day, but food is declining. Is, if I start to tell about it then it will be a very long story ,



Telling you in the short, in the desire to get more crop, using poisonous fertilizers like urea also brings urea in that crop, which is the main cause of cancer in India.



Secondly, people who eat more chicken have more chances of getting some serious disease, either high blood pressure or any kind of infection which later takes the form of cancer. What is the reason, tell you that a chicken that is 50-100 grams, how many hormones chemical dangerous high protein is given to it for 30 days,



So that its weight reaches 2 kg, you do not know, on the 31st day you go to the market and buy that chicken and eat  , but indirectly you are eating only chemical, hormonal dangerous protein, Which definitely shows its effect after 10-15 years.



The third is the most serious reason. If there is a disease, it should not be treated in time, if there is pain in any part of the body, then instead of getting a check up from the doctor, try to cure yourself by eating a pen killer yourself, or an infection inside or outside the body If you go careless instead of treating it, there is a possibility of cancer.



cancer kya hota hai jankari hindi me , कैंसर का रोग क्यों और कैसे होता है .

kaise hota hai cancer
शरीर एक सिस्टम से काम करता है ,मानव शरीर में एक प्रतिरोधक शक्ति होती है जो हर प्रकार के रोगो से लड़ने में निपुण होती है जब इस प्रतिरोधक शक्ति में कोई कमी आ जाती है तो कई प्रकार के रोगों शरीर पर आक्रमण(attack) होने लगता है।

सबसे बुनियादी भाषा  में, cancer शब्द का प्रयोग उन बीमार कोशिकाओं लिए किया जाता है जो नियंत्रण से बाहर हो जाती है और अन्य ऊतकों ,स्वस्थ कोशिकाओं  पर आक्रमण करती हैं। कोशिकाएं के डीएनए में दोषों, या  उत्परिवर्तनों के संचय के कारण कैंसर हो सकती हैं।

कुछ मरीजों में ये विरासत आनुवंशिक दोष होता है और कई बार किसी प्रकार का इन्फेक्शन भी कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं।


दूषित वातावरण वायु प्रदूषण और खराब जीवनशैली विकल्पों जैसे कि धूम्रपान और भारी शराब का उपयोग-डीएनए को भी नुकसान पहुंचा सकता है और कैंसर का कारण बन सकता है।

ज्यादातर  कोशिकाएं(cell) अपनी  DNA  क्षति का पता लगाने और और स्वयं की मरम्मत या ठीक करने में सक्षम होती हैं। यदि कोई कोशिका गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो जाती है और खुद की मरम्मत नहीं कर सकती है,  तो आमतौर पर इसे तथाकथित प्रोग्राम किए गए self suicide  या एपोप्टोसिस से गुजरना पड़ता है। जिसका अर्थ है ये बीमार कोशिकाएं खुद को नष्ट कर लेती है .

cancer तब होता है जब ये क्षतिग्रस्त कोशिकाएं (cell) स्वयं को ख़तम करने की बजाय असामान् रूप से बढ़ने लगती हैं , विभाजित होती हैं और दूसरी कोशिकाओं को नुक्सान पहुंचाते हुए पुरे शरीर में फैलने लगती है.

शरीर में कैंसर की शुरुआत कैसे होती है :-

आपने ऊपर पढ़ा की कैंसर शरीर में कैसे फैलता है ,अब आप जानेगे कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी शरीर में कैसे पनपती है इसकी शुरुआत कैसे होती है ,दिन प्रतिदिन लोगों का लाइफ स्टाइल उच्च श्रेणी की और डाइवर्ट हो रहा ,लेकिन खान पान में गिरावट आ रही है , अगर इसके बारे में बताने लगूँ तो बहुत लम्बी चौड़ी बात हो जाएगी ,

आपको शार्ट में बता रहा हूँ , अधिक फसल प्राप्त करने की चाह में यूरिया जैसी जहरीली खादों का प्रयोग करने से उस फसल में भी यूरिया की मात्रा आ जाती है ,जो भारत में कैंसर का प्रमुख कारन है।

दूसरा जो लोग चिकन अधिक खाते है ,उन्हें कोई न कोई गंभीर रोग लगने के चांसेज अधिक होते है ,या तो हाई ब्लड प्रेशर or किसी किसम का इंफेक्शन जो बाद में कैंसर का रूप ले लेता है। कारन क्या है , आपको बता दें की एक चूजा जो की 50-100 ग्राम का होता है ,उसको 30 दिन तक कितने हॉर्मोन केमिकल खतरनाक हाई प्रोटीन दिए जाते है ,

ताकि उसका बजन 2 किलो तक पहुँच जाये ,ये आप नहीं जानते ,31 वे दिन आप मार्किट में जाकर उस मुर्गे को लातें है और चट कर जाते है ,लेकिन अप्रत्यक्ष रूप से आप सिर्फ केमिकल ,हॉर्मोन खरतनाक प्रोटीन खा रहे होते है जो अपना असर 10-15 वर्षों बाद जरूर दिखाता है।

तीसरा सबसे गंभीर कारन है। अगर कोई रोग हो जाये तो समय पर उसका इलाज न करवाया जाये ,शरीर के किसी अंग में दर्द हो तो डॉक्टर से चैक अप करवाने की बजाए खुद ही कोई पेन किलर खा कर ठीक करने की कोशिश की जाये ,या  शरीर के भीतर या बाहर इन्फेक्शन हो जाये और उसका उपचार करने की बजाए लापरवाही बरती जाये तो  भी कैंसर होने की सम्भावना हो जाती है


EmoticonEmoticon