-->

कृष्णादि चूर्ण बच्चो के दस्त - दूध न पचना - चिड़चिड़ापण के लिए लाभकारी | Krishnadi churan in hindi

अक्सर छोटे बच्चों को दांत निकलते समय फटा फटा दस्त होने lagta है , या दूध न पचने के कारन भी अतिसार या सफ़ेद फटा फटा दस्त होता है .पेट  में   दर्द  पेट  फुला  हुआ  होयता  है  , बच्चा  दिन  प्रति  दिन कमजोर होने लगता है .बच्चा हर समय रोता रहता है , उसका सबभाव भी चिड़चिड़ा हो जाता है . भोजन में भी अरुचि दिखाता है .बच्चो के पेट की कोई भी परेशानी होने पर कृष्णादि चूर्ण का सेवन करवाना चाहिए .

bachcho ke dast ke liye dwayi - krishnadi churan


कृष्णादि चूर्ण .छोटे बच्चो के लिए उत्तम औषधि है .इसके सेवन से छोटे बचो में होने बाले दस्त , बार बार लेट्रिन जाना , अतिसार , बच्चों को दूध न पचना .पेट में अफरा और साथ में दर्द बनी रहना . ाडी रोगो के लिए कृष्णादि चूर्ण का सेवन लाभकारी  होता है .

इसके सेवन से कमजोरी  के कारन बुखार पेट में दार्द , खांसी ,सर्दी आदि रोग भी थी हो जाते है .

इसके सेवन से बच्चो की आंते मजबूत होने लगती है बच्चा जो भी खाता पीता है सब हजम हो जाता है .दिन प्रति दिन बच्चे के शरीर में बदलाब देखने को मिलता है और बच्चा कुछ ही नो में हष्ट पुष्ट ( स्वस्थ ) हो जाता है 

कृष्णादि चूर्ण कैसे  बनाये :-


पीपल 20  ग्राम 

सोंठ  20  ग्राम 

बेलगिरी 20  ग्राम 

नागरमोथा 20  ग्राम  

अजवाइन 20  ग्राम 

इन सबको पीस कर चूर्ण बनावे और और दिन में तीन बार  125  mg  शहद के साथ चटाएं .


सबधाणी :- 

हमारी वेबसाइट में बताई गयी किसी भी औषधि का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें . हम किसी भी दवाई के लाभ या हानि की जम्मेदारी नहीं लेते . कृष्णादि  चूर्ण आपको वैद्यनाथ जांदू आदि कोम्पनिओ से मिल जायेगा .


EmoticonEmoticon