-->

भोले तेरी ही मूरत का दीदार चाहिए shiv bhagwan ke bhajan ka lyrics hindi me


bhole teri hi murat ka dedaar chahiye

shiv bhagwan ki shayari photo download


आया सावन झूम के मियां नाचे नो नो तार,

तेरे दर पे जो भी आवे हॉवे मालामाल,

मुझको भी इक वर तेरा प्यार चाहिए,

भोले तेरी ही मूरत का दीदार चाहिए,


तुम्हे कब से पुकारे अब आओ डमरू वाले,

जल्दी से आके मेरी बिगड़ी जल्दी बना दे बना दे,

मुझको भी इक बार तेरी किरपा चाहिए,

भोले तेरी ही मूरत का दीदार चाहिए,


तेरे तन पे भभूति माथे पर देखो चंदा चंदा,

भोले की जटा से बहती है देखो गंगा,

मुझको भी इक वार तेरा दर्शन चाहिए,

भोले तेरी ही मूरत का दीदार चाहिए,


भागमवार धारी कारे नंदी की सवारी,

भोले त्रिपुरारी है महिमा इनकी न्यारी,

शर्मा को इक वर तेरा साथ चाहिए,

भोले तेरी ही मूरत का दीदार चाहिए,




भोले शंकर के डमुरियां डम डम बाजे रे

bhole shankar ke damariyan dm dm bhaaje re



शीश पे चंदा जटा में गंगा तन पे भस्म रमाते हो

त्रिकुंड धारी त्रिनेत्र धारी कर तेरे तिरशूल विराजे,

भोले शंकर के डमुरियां डम डम बाजे रे,

डमुरिया डम डम बाजे रे

भोले शंकर के डमुरियां डम डम बाजे रे,


कान में कुंडल बिशु के गले में हार सर्पो के,

ये है प्यारे असुर यक्ष ओर नाथ गनधरवो के

गले में नर मुंडो की माला शाल वाख्म्भर धारी,

भोले शंकर के डमुरियां डम डम बाजे रे,


कंठ हला हल धारा है भंग धातुरा प्यारा है,

भुत प्रेत है उनके संगी नंदी वाहन प्यारा है,

हर हर शंकर महा भयंकर शिव है सब से न्यारे,

भोले शंकर के डमुरियां डम डम बाजे रे,


कोई नही जो देता है वो सब शंकर देते है

मन मन के सुख देते है सारे दुःख हर लेते है

भोले का यश गान करे जो मन चाहा वर देते,

भोले शंकर के डमुरियां डम डम बाजे रे,


Post a Comment

और नया पुराने