-->

मोहन से दिल क्यूँ लगाया है भजन लिरिक्स mohan se dil kyun lagaya hai krishan bhajan lyrics

mohan se dil kyun lagaya hai yeh main jaanu ya vo jaane


मोहन से दिल क्यूँ लगाया है, यह मैं जानू या वो जाने ।

छलिया से दिल क्यूँ लगाया है, यह मैं जानू या वो जाने ॥


हर बात निराली है उसकी, कर बात में है इक टेडापन  ।

टेड़े पर दिल क्यूँ आया है, यह मैं जानू या वो जाने ॥


जितना दिल ने तुझे याद किया, उतना जग ने बदनाम किया ।

बदनामी का फल क्या पाया हैं, यह मैं जानू या वो जाने ॥


तेरे दिल ने दिल दीवाना किया, मुझे इस जग से बेगाना किया ।

मैंने क्या खोया क्या पाया हैं, यह मैं जानू या वो जाने ॥


मिलता भी है वो मिलता भी नहीं, नजरो से मेरी हटता भी नहीं ।

यह कैसा जादू चलाया है, यह मैं जानू या वो जाने ॥ 


mohan se dil kyoon lagaaya hai, 

yah main jaanoo ya vo jaane .


 chhaliya se dil kyoon lagaaya hai,

 yah main jaanoo ya vo jaane .


 har baat niraalee hai usakee,

 kar baat mein hai ik tedaapan . 


tede par dil kyoon aaya hai, 

yah main jaanoo ya vo jaane .


 jitana dil ne tujhe yaad kiya,

 utana jag ne badanaam kiya .


 badanaamee ka phal kya paaya hain,

 yah main jaanoo ya vo jaane . 


tere dil ne dil deevaana kiya,

 mujhe is jag se begaana kiya .


 mainne kya khoya kya paaya hain,

 yah main jaanoo ya vo jaane . 


milata bhee hai vo milata bhee nahin,

 najaro se meree hatata bhee nahin . 


yah kaisa jaadoo chalaaya hai,

 yah main jaanoo ya vo jaane .

और नया पुराने