-->

Banke Bihari Re Dur Karo Dukh Mera Lyrics

Banke Bihari Re Dur Karo Dukh Mera Lyrics


बाँके बिहारी रे दूर करो दुख मेरा

सुना है जो तेरे दर पै आवे 

तन मन के दुखडे मिट जावें

जब आवै शरण तिहारी रे 

बाँके बिहारी रे दूर करो दुख मेरा 


जनम जनम का मै हूँ भटका 

बेडा आय भंवर में अटका

पार करो गिरधारी रे॥

बाँके बिहारी रे दूर करो दुख मेरा  


शबरी अहिल्या गणिका तारी 

मीरा तुमने पार उतारी

अब आई हमारी बारी रे

बाँके बिहारी रे दूर करो दुख मेरा  


मोर मुकुट पीताम्बर धारी 

संग में हो वृषभानु दुलारी

मोहन गिरवर धारी रे॥

बाँके बिहारी रे दूर करो दुख मेरा 

Related Posts

एक टिप्पणी भेजें